रोज दही खाने से बेली फैट हो जायेगा गायब…

0
4

मोटापा से परेशान लोगों में सबसे ज्यादा परेशानी होती है बैली फैट की , एक्सपर्ट्स मानते हैं कि वजन कम करने में बैली फैट को बर्न करना सबसे कठीन काम होता है परन्तु शोधकर्ताओ की मने तो बैली फैट कम करने के लिए “दही” खाना बहुत फायदेमंद होता है।

Loading...

24 घंटे में अगर आप 3 बार के भोजन में दही का सेवन करते हैं तो मोटापा के शिकार होने से बच जाते हैं।

पेट के साइड में कमर के आस-पास फैट बढ़ने को बैली फैट कहते हैं. डॉक्टर्स की मानें तो पेट की चर्बी बढ़ने से कई तरह की बीमारी का खतरा बढ़ जाता है. स्ट्रोक और हृदय रोग का खतरा सबसे ज्यादा रहता है.साथ ही मेटाबॉलिक रेट धीमा हो जाता है, कोर्टिसोल हार्मोन का उत्पादन बढ़ जाता है. कार्टिसोल हार्मोन स्ट्रेस बढ़ाने का काम करता है।

पेट की चर्बी अधिक होने से शरीर में इंसुलिन का स्तर व उत्पादन प्रभावित होता है और डायबिटीज का खतरा कई गुना बढ़ जाता है।

साथ ही चर्बी बढ़ने से हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटीज, कोलेस्ट्रॉल की बीमारी, हार्ट स्ट्रोक, डिमेंशिया, किडनी की बीमारी और कैंसर का खतरा बढ़ जाता है।

दही एक प्रोबायोटिक है.हमारे आंत में हेल्दी बैक्टीरिया बढ़ाने के लिए दही का सेवन फायदेमंद होता है. दही के सेवन से मोटापा कम होता है और पाचन तंत्र भी अच्छा होता है. दही में फैट की मात्रा कम हो बस इसका हमेशा ध्यान रखना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here